sach ka aaina

अपने किरदार को जब भी जिया मैंने, तो जहर तोहमतों का पिया मैंने, और भी तार-तार हो गया वजूद मेरा, जब भी चाक गिरेबां सिया मैंने...

213 Posts

932 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 12009 postid : 730652

अगर सपा सुप्रीमो को इतनी ही अक्ल होती तो प्रधानमंत्री या फिर समाज का सम्मानित व्यक्ति तो बन ही गया होता....

Posted On: 11 Apr, 2014 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

सुनीता दोहरे प्रबंध सम्पादक

अगर सपा सुप्रीमो को इतनी ही अक्ल होती तो प्रधानमंत्री या फिर समाज

का सम्मानित व्यक्ति तो बन ही गया होता….

अभी हाल ही में मुरादाबाद की रैली में सपा सुप्रीमो ने ऐसा बयान दिया है, जिसे सुनकर आपके जेहन में इस शख्स की तस्वीर बदल सकती है लोगों को संबोधित करते हुए मुलायम ने कहा कि रेप के लिए फांसी देना गलत है। मुलायम ने बलात्कारियों का बचाव करने के लिए यहां तक कह दिया कि “लड़कों से गलतियां हो जाती हैं”।
इस तरह के बेतुके बयान सपा नेता हमेशा से ऐसे संवेदनशील मसलों पर पहले भी देते रहे हैं आपको याद हो कि जनवरी 2013 की बात है जब समाजवादी पार्टी के नेता “अबु आजमी” ने कहा था कि “फैशन और कम कपड़े पहनने से ही बलात्कार जैसी घटनाएं होती हैं इसकी ये भी मांग थी कि बगैर सिर ढके और स्कर्ट पहनकर निकलने वाली महिलाओं के लिए कानून बनाने की भी मांग पूरी की जाए !
और ये बात भी ज्यादा पुरानी नहीं है। 2012 के विधानसभा के दौरान भी एक रैली में
मुलायम सिंह यादव ने रेप पीड़िता को लेकर एक बयान दिया था, जिस पर वे हर तरफ से घिर गए थे। रेप पर मरहम लगाकर वोट बटोरने के चक्कर में सिद्धार्थनगर की एक रैली में उन्होंने बलात्कार पीडि़तों या उनके परिवार के किसी सदस्य को सरकारी नौकरी देने की बात कही थी। बात ने तूल पकड़ा तो मुलायम भी पलट गए बाद में उन्होंने कहा कि मैंने तो कहा था कि अगर मेरी पार्टी सत्ता में आती है तो बलात्कारियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी…..
ऐसा ही एक बयान सपा के एक अन्य नेता ने भी दिया था जब मुलायम के लोकसभा क्षेत्र में एक लड़की के बलात्कार के बाद उसे जलाने की घटना हुई थी तब उस पर प्रतिक्रिया देते हुए एक सपा नेता ने कहा था कि इतना बड़ा प्रदेश है और इतने बड़े प्रदेश में रेप और हत्या की घटनाएं तो होंगी ही ……
मुलायम सिंह द्वारा दिया गया ये विवादित  ब्यान जिसमें  उन्होंने ये कहा है कि “रेप करने वालों को फ़ांसी की सजा देना उचित नही है क्योंकि लडको से गलती हो ही जाती है अगर उनकी सरकार बनती है तो वो इस कानून में बदलाव करेंगे” ऐसे ब्यान को देकर मुलायम वोट बैंक पाने के लिए जो रास्ता अख्तियार कर रहे हैं वही उनके वजूद को खत्म करने का कारण होगा ये वही शख्स हैं जिन्होंने लोकसभा में महिला बिल पास होने की मुखालफ़त की है और कर भी रहे हैं !…….
इन जनाब का कथन है कि लड़किया पहले लड़कों से दोस्ती करती है फिर लड़ाई होने के बाद लड़कों पर रेप का इल्ज़ाम लगा कर उन्हें सज़ा दिलवाती है लेकिन क्या जनाब ये नही जानते कि अभी हाल ही में इनके उत्तर प्रदेश क्षेत्र में पांच दिन में दो लड़कियों का गैंग रेप हुया जिनकी उमर मात्र पांच साल और छः साल थी इसमें किसका दोष था क्या इसका जवाब है जनाब के पास  ?
आज सारे देश की महिलायें तुमसे ये सवाल कर रहीं है कि क्या दोगे तुम देश को , जबकि तुम देश के पी एम (प्रधानमंत्री ) बनने का सपना संजोकर बैठे हो !
मानाकि हमारे देश मे अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता है किन्तु एक राष्‍ट्रीय पार्टी के मुखिया और प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके जैसे व्यक्ति की इस बयानबाजी से उसकी ओछी सोच का पता चलता है मुझे आश्चर्य होता है कि ऐसी सोच वाला व्यक्ति प्रधान मंत्री बनने के स्वप्न देख रहा है ! जनाब आपको शायद ये नहीं पता कि महिला शक्ति क्या होती है अगर एकजुट हो जाए तो सियासत का तख्ता पलट सकती है !…
ये सौ प्रतिशत सत्य है कि उत्तर–प्रदेश में जब से सपा की सरकार बनी है तब से महिलाओं के खिलाफ होने वाले यौन अपराध में बेतहासा वृद्धि हुई है जिसमें एक खास समुदाय की लड़कियां पीडि़त और एक अन्‍य खास समुदाय के युवक यौन अपराधी के रूप में सामने आए हैं पश्चिम उत्‍तर-प्रदेश में बलात्‍कार की घटनाएं बहुत तेजी से बढ़ी हैं देखा जाए तो ये सौ प्रतिशत सही है कि मुजफफरनगर का दंगा भी लड़की के साथ हुए यौन अपराध के बाद ही भड़का था ऐसे में मुलायम का बयान महिलाओं के प्रति हिंसा बढ़ाने वाला है, अवाम के साथ –साथ खासकर महिलाओं को बस यही पर एक प्रश्न चिन्ह लगाते हुए ये समझ लेना होगा कि क्‍या मुलायम अपनी कुत्सिक वोट बैंक के लिए यौन अपराधियों व उनके समुदाय के वोट पर निर्भर हो चले हैं ?
विदित हो कि आज उत्तर-प्रदेश देश मे प्रथम श्रेणी का अपराध प्रदेश बन गया है आज प्रदेश मे अपराधियों विशेषकर बलात्कारियों का बोलबाला है, ना ही पुलिस रिपोर्ट लिखती है और ना ही कोई जांच पड़ताल होती है आम जनता की बहू-बेटियां घरों से निकलने मे घबराती है क्योंकि अपराधियों के हौसले इतने बुलंद है कोई पुलिस उन पर हाथ नही डाल सकती है, कारण कि पार्टी में चुने हुए दागी मंत्री विराजमान है जो कि बलात्कारियों और अपराधियों को थानों का घेराव करके छुडवा लेते हैं यहाँ न कोई कानून का डर है ना ही कोई कानून चलता है, हाँ बस कानून चलता है तो सिर्फ इन दागी मंत्रियों का !
मुलायम सिंह के ये विवादित ब्यान मुझे ये सोचने पर मजबूर कर रहा है कि अभी हाल ही मैं शक्ति मिल रेप काण्ड हुआ था उसमें विशेष समुदाय के दो अपराधी भी हैं, ये अपराधी एक बार नहीं कई बार इस तरह के गुनाह कर चुके हैं अगर इस बार इन्हें सजा नही मिलती है तो फिर कब मिलेगी ? इसी विशेष समुदाय की सिम्पैथी द्वारा वोट बैंक बढाने का कार्य सपा सुप्रीमों बखूबी जानते हैं !!!!!!!
अब अपने पिता द्वारा दिए हुए इस विवादित ब्यान के पलट में अखिलेश यादव कुछ भी कहना नहीं चाहते हैं कारण कि सियासत में अखिलेश यादव की स्थिती तो इतनी बिगड़ी हुई है कि सिर्फ कहने मात्र को वो मुख्यमंत्री हैं बाकी सर्वेसर्वा तो कोई और ही है , जिस प्रकार केंद्र सरकार में मनमोहन सिंह की स्थिती रहती है ठीक इसी प्रकार प्रदेश सरकार में अखिलेश सिंह की स्थिती है !
मुलायम सिंह के इस तरह के घटिया ब्यानों से समाज में अपराध की प्रवत्ति और बढ़ेगी ! जनाब कभी तो सियासी निगाहों से देखना बंद कीजिये अब आवाम जागरूक हो चुकी है वैसे अभी आपको सियासत का नशा है कुछ भी समझ ना आएगा वो कहते है कि…..
“जाके जाए ना पाँव बिवाई, वो क्या जाने पीर पराई !!!!!!
जिस दिन अवाम की समझदारी की मार पड़ेगी उस दिन सब समझ आ जाएगा !
मेरी समझ से तो पूरे देश की महिलाओं को एक जुट होकर इस तरह के विवादित ब्यान देने वालों के खिलाफ एक जंग छेड़ देनी चाहिए ताकि समाज में दरिंदगी सर ना उठाये….
वैसे अंत में हम सिर्फ इतना कहना चाहेंगे कि सपा सुप्रीमों… “पाप और पाप का साथ देने वालों का अंत एकदिन जरुर होता है बस थोडा इन्तजार कीजिये क्योंकि तुम्हारे इस तरह के ब्यानों को सुनकर यही जनता तुम्हारी सियासत का बलात्कार करेगी ….ये जो दिल्ली की कुर्सी तुमको दिख रही है उसके बारे में सोचना भी भूल जाओगे …….
सुनीता दोहरे …..

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



latest from jagran